Whats App Yaad Shayari,hindi Urdu Missing Shayari

yaad status collection/yaad shayari urdu/miss shayari/miss u shayari for love/yaad heart touching shayari/i miss u shayari/i miss you shayari in hindi/i miss u status/miss u shayari for whats app/whats app yaad shayari/whats app yaad shayari/whats app yaad hindi shayari/hindi miss u sms/hindi miss you msg/urdu poetry missing u/tanhai me yaad ki shayari/



bhul na paogi mera sath tum chahe jitna 
yaad aaunga tumhe khwab-o-khayalo me me utna 
shayad bichad ke chacht or wasik hoti hai 
yakeen na aaye to krke dekh ye bhi fitna 

भुला ना पाओगी मेरा साथ तुम चाहे जितना 
\आउंगा याद तुम्हें ख्वाब-ओ-खयालों मे उतना 
शायद बिछड के चाहत और वासिक़ होती है 
यकीन ना आए तो कर के देख ये भी फितना


kalam chalti hai to dil ki awaz likhta hoo
gham or judai ke andaaz bayan karta hoo
rukte nahi meri ankho se aansu 
me jab bhi unki yaad me alfaaz likhta hoo

कलम चलती है तो दिल की आवाज लिखता हूँ; 
गम और जुदाई के अंदाज़-ए-बयां लिखता हूँ; 
रुकते नहीं हैं मेरी आँखों से आंसू;
 मैं जब भी उसकी याद में अल्फाज़ लिखता हूँ।


mausam ke isharo se bula ku nahi lete rutha hai 
tum jaag rahe ho mujhko acha nahi lagta 
chupke sae meri neend chura ku nahi lete 
deewana tumhara koi gair nahi machal 
bhi to seene se laga ku nahi lete 
kabhi khat likhkar kabhi or kabhi khat ko jalakar

मौसम को इशारों से बुला क्यों नहीं लेते रूठा है 
 तुम जाग रहे हो मुझको अच्छा नहीं लगता चुपके से मेरी नींद चुरा क्यों नहीं लेते 
दीवाना तुम्हारा कोई गैर नहीं मचला भी तो सीने से लगा क्यों नहीं लेते 
खत लिखकर कभी और कभी खत को जलाकर


is duniya me sab bikta hai
fir judaiyaan rishvat ku nahi leti 
marta nahi hai koi kisi se juda hokar
bas yaadein hi hain jo jeene nahi deti

इस दुनियाँ में सब कुछ बिकता है, 
फिर जुदाई ही रिश्वत क्युँ नही लेती? 
मरता नहीं है कोई किसी से जुदा होकर, 
बस यादें ही हैं जो जीने नहीं देती..


me jahan rahu me kahin bhi hoo 
teri yaad sath hai kisi se kahu ya nahi kahu
ye jo dil ki baat hai,kehne ko sath apne ek duniya chalti hai 
par chupke is dil me tanhai palti hai 
teri yaad sath hai 

‘मैं जहां रहूं, मैं कहीं भी हूं, 
तेरी याद साथ है। किसी से कहूं, के नहीं कहूं,
 ये जो दिल की बात है। कहने को साथ अपने, एक दुनिया चलती है। 
पर झुक के इस दिल में, तन्हाई पलती है। 
तेरी याद… साथ है, तेरी याद साथ है।


click here for more shayari

Share this

Related Posts

Previous
Next Post »