2 LINE SAD LOVE SHAYARI BY BROKEN HEART BOY

meri ghazlo me tera zikr ku na ho
shayar mujhko banaya tune hi hai


tum bin me kaise jiyoon bata de bewafa
raah mujhko bhoolne ki dikha de bewafa


haal e dil sunane me fir se reh gaya
baad muddat ke wo aaye the raat kwab me


begunah tha magar saja sunai gai mujhe
raahe tabahi barbaadi ki dikhai gai mujhe


wahi raate ab tadpaya karti hain aksar
jinme tune jaam pilaye the jawani ke mujhe


mere dil se tera khayal juda hota nahi
ae janam baad judai ke ye tadap kyon


tere pyar ko bhoolna aasan nahi mere liye
ye kaise bhool jau shehr badar hua tere liye


khusbhu jo foolo me samai hui hai
ae dil ye uski sanso se churai gai hai


kar dua ae sagar tu apne parwar diagar se
teri tarah na door ho koi apne hi pyar se


ek patta sakh se toota to fir na jud sakega
sagar ki zindagi ka bhi yahi anjaam hona hai


jab muflisi mili thi fakakashi ke sath
tab bhi kisi ka hamne sahara nahi dekha


baad muddat aaj fir yaar ki yaad aai
aaj fir uske jakhmo ne rulaya hai mujhko


hokar meharbaan yaar ne aaj dia fir jakhm naya
shukr hai maula aaj fir diwali ho gai


ghamo ko door karna bhi apne hi haath hota hai
mukaddar ko dosh dekar ku tu rota hai


mujhko jeene ka hunar aaya hai dekho us ghadi
aakhiri jab saans apni me jab le raha hoon dosto


hota nahi hai magar aaj sagar ka kinara ho gaya
gham jo mila yaar se wo mujhko pyara ho gaya



मेरी गाज़लो मे तेरा ज़िक्र कू ना हो
शायर मुझको बनाया तूने ही है


तुम बिन मे कैसे जियूं बता दे बेवफा
राह मुझको भूलने की दिखा दे बेवफा


हाल ए दिल सुनने मे फिर से रह गया
बाद मुद्दत के वो आए थे रात कवाब मे


बेगुनाह था मगर सज़ा सुनाई गई मुझे
राहे तबाही बर्बादी की दिखाई गई मुझे


वही राते अब तडपया करती हैं अक्सर
जिनमे तूने जाम पिलाए थे जवानी के मुझे


मेरे दिल से तेरा ख़याल जुड़ा होता नही
आए जानम बाद जुदाई के ये तड़प क्यों


तेरे प्यार को भूलना आसान नही मेरे लिए
ये कैसे भूल जौ शहर बदर हुआ तेरे लिए


खुसभू जो फूलो मे समाई हुई है
आए दिल ये उसकी सांसो से चुराई गई है


कर दुआ आए सागर तू अपने परवर डियागार से
तेरी तरह ना डोर हो कोई अपने ही प्यार से


एक पत्ता साख से टूटा तो फिर ना जुड़ सकेगा
सागर की ज़िंदगी का भी यही अंजाम होना है


जब मुफ़लिसी मिली थी फककाशी के साथ
तब भी किसी का हमने सहारा नही देखा


बाद मुद्दत आज फिर यार की याद आई
आज फिर उसके जख़्मो ने रुलाया है मुझको


होकर मेहरबान यार ने आज दिया फिर जख्म नया
शुक्र है मौला आज फिर दीवाली हो गई


घमो को डोर करना भी अपने ही हाथ होता है
मुक़द्दर को दोष देकर कू तू रोता है


मुझको जीने का हुनर आया है देखो उस घड़ी
आख़िरी जब साँस अपनी मे जब ले रहा हूँ दोस्तो


होता नही है मगर आज सागर का किनारा हो गया
घाम जो मिला यार से वो मुझको प्यारा हो गया

very sad love shayari/very sad 2 line shayari by broken heart boy/sad broken heart shayari in hindi/2 line valentine shayari 2016/2016 valentine love status/two line shayari for love/love hindi 2 line status for whats app/hindi love sad shayari for gf in two lines/love sad shayari that make you cry/cry love shayari/best love message

Share this

Related Posts

Previous
Next Post »